Monday, 8 May 2017

nice line) आज मेरे बारे में।

nice line) आज मेरे बारे में।

कुछ चंद पंक्तिया आज मेरे बारे में।।।

किसी को तकलीफ देना मेरी आदत नही,
बिन बुलाया मेहमान बनना मेरी आदत नही...!

मैं अपने गम में रहता हूँ नबाबों की तरह,
परायी खुशियो के पास जाना मेरी आदत नही...!

सबको हँसता ही देखना चाहता हूँ मै,
किसी को धोखे से भी रुलाना मेरी आदत नही...!

बांटना चाहता हूँ तो बस प्यार और मोहब्बत,
यूँ नफरत फैलाना मेरी आदत नही...!

जिंदगी मिट जाये किसी की खातिर गम नही,
कोई बद्दुआ दे मरने की यूँ जीना मेरी आदत नही...!

सबसे दोस्त की हैसियत से बोल लेता हूँ,
किसी का दिल दुखा दूँ मेरी आदत नही...!

दोस्ती होती है दिलों से चाहने पर,
जबरदस्ती दोस्ती करना मेरी आदत नही..!

नाम छोटा है मगर दिल
बडा रखता हु | |
पैसो से उतना अमीर नही हु | |
मगर अपने यारो के गम खरिद ने
की हैसयत रखता हु | |

: जरुरी तो नहीं था ..हर चाहत का मतलब इश्क हो..!! कभी कभी कुछ अनजान रिश्तो

🔫: अच्छे लोगों की इज्जत
  कभी कम नहीं होती।
सोने के सौ टुकड़े करो,
               फिर भी कीमत
                कम नहीं होती।
भूल होना "प्रकति " है,
मान लेना "संस्कृति" है,
सुधार लेना "प्रगति" है,
ये रास्ते ले ही जाएंगे....
मंजिल तक, तू हौसला रख,
कभी सुना है कि अंधेरे ने
सुबह ना होने दी हो..!!!
💐
🔫: हम INDIA वालो में कोई और टैलेंट होना हो
लेकिन......
.
.
.
जहाँ से 'स्पीड ब्रेकर' टूटा हो वहाँ से गाड़ी
निकालने का टैलेंट ज़रूर होता है
😂😂😂

🔫: दर्द ए दिल इतना मिला कि घबराकर पी गए,
थोडी सी खुशी क्या मिली तो मिलाकर पी गए,,
यूँ तो न थी आदत मेरी पीने
की लेकिन...
थोडा बेवफा की बेवफाई का दर्द पाकर ही पी गए....

🔫: जिंदगी को इतना सिरियस लेने की जरूरत नही यारों, यहाँ से जिन्दा बचकर कोई नही जायेगा!👌
         जिनके पास सिर्फ सिक्के थे वो मज़े से भीगते रहे बारिश में ....
जिनके जेब में नोट थे वो छत तलाशते रह गए...👌

🔫: "दीदार की 'तलब' हो तो नज़रे जमाये
रखना 'ग़ालिब'
क्यूंकि, 'नकाब' हो या 'नसीब'.....सरकता जरुर है."

🔫: मोहब्बत का मेरा यह सफर आख़िरी है;
ये कागज, ये कलम, ये गजल आख़िरी है;
फिर ना मिलेंगे अब तुमसे हम कभी;
क्योंकि तेरे दर्द का अब ये सितम आख़िरी है।

🔫: "बोतल पे बोतल पीने से क्या फायदा, मेरे दोस्त, रात गुजरेगी तो उतर जाएगी, पीना है तो सिर्फ एक बार किसी की बेवफाई पियो, प्यार की कसम, उम्र सारी नशें में गुजर जाएगी"

🔫: मेरी मोहब्बत मेरी खता बन गयी,
ये ही दीवानगी मेरी सजा बन गयी,
उनकी मासूमियत पर फ़िदा हुआ ऐसे,
कि उन्हें पाना ही ज़िन्दगी कि रज़ा बन गयी….

🔫: जरुरी तो नहीं था ..हर चाहत का मतलब
इश्क हो..!!
कभी कभी कुछ अनजान रिश्तो के लिए
भी दिल बेचेंन हो जाता हे..!!!!!!

🔫: 🍃साजिशें वो रचते है दुनिया में जिन्हें कोई
जंग जितनी हो.......
मेरी कोशिश तो
दिल जितने की होती है...
ताकि रिश्ता
कायम रहे जब तक जिंदगी हो..🍃

🔫: ना आना लेकर उसे मेरे जनाजे में,
मेरी मोहब्बत की तौहीन होगी,
मैं चार लोगो के कंधे पर हूंगा,
और मेरी जान पैदल होगी.

🔫: जिस दिल में था प्यार तेरा,
वो दिल तो कभी का तोड़ दिया।
बदनाम ना तुझे होने देंगे कभी भी,
तेरा नाम भी लेना छोड़ दिया। इस

🔫: किसी की यादों ने पागल बना रखा है.. कहीं मर ना जाऊं कफ़न सिला रखा है.. जलने से पहले दिल निकाल लेना.. कहीं वो ना जल जाए जो दिल में छुपा रखा है...

🔫: जो हैरान है मेरे सब्र पर उनसे कह दो......
जो आंसू जमीं पर नहीं गिरते,
दिल चीर जाते है !!!

🔫: "क्यूँ डरे की कल जिन्दगी मे क्या होगा, हर वक्त क्यूँ सोचे की कुछ बुरा होगा, बढ़ते रहें बस मंजिलो की ओर, कुछ नही तो कोई तजुर्बा तो नया होगा.

🔫: 👉करूगा कया मैं मोहब्बत मे नाकाम होकर
मुझे तो कोई और काम भी नहीं आता

🔫: कड़वी बात है लेकिन सच है
हम किसी के लिए उस वक़्त तक स्पेशल है..
जब तक उन्हें कोई दूसरा नहीं मिल जाता.

🔫: आग लगी थी...मेरे घर को...किसी सच्चे दोस्त ने पूछा-:"क्या बचा है. . ? ?".मैने कहा -:"मैं बच गया हूँ. . ! !".उसने गले लगाकर कहा -:"फिर जला ही क्या है।।

🔫: वाह मेरे महबूब बडी जल्दी ख्याल आया मेरा,,,
बस भी करो चूमना अब उठाने भी दो जनाजा मेरा।

🔫: " जब शीशे की अलमारी में रख कर जूते बेचें जाऐं
और किताबें फुटपाथ पर बिकती हों
तो समझलो कि दुनिया को ज्ञान
की नहीं जूतों की जरूरत है.."

🔫: जो सरफिरे होते है ।।इतिहास वही लिखते है
समजदार लोग तो सिर्फ उनके बारे में पढते हैं।।
परख अगर हीरे की करनी है तो अंधेँरे का इन्तजार करो......,,,
वरना धुप मे तो काँच के टुकडे भी चमकते है"
💐💐💐💐

🔫: 'खामोश बैठें तो लोग कहते हैं
उदासी अच्छी नहीं,
ज़रा सा हँस लें तो
मुस्कुराने की वजह पूछ लेते हैं.'

🔫: मौत का आलम देख कर तो ज़मीन भी दो गज़ जगह दे देती है… फिर यह इंसान क्या चीज़ है जो ज़िन्दा रहने पर भी दिल में जगह नहीं देता…

🔫: परेशानी में कोई सलाह मांगे तो,
सलाह के साथ अपना साथ भी देना
क्योंकि सलाह गलत हो सकती है, साथ नहीं।

: तु हजार बार भी रूठे तो मना लुगाँ तझे, मगर देख, मुहब्बत में शामिल कोई दुसरा न हो

🔫: 
             " DARD "


Sabhi Insaano Mein Hai..
Magar...
Koi Dikhata Hai...
To...
Koi Chhupata Hai...



.       " HUMSAFAR "


Sabhi Hai.....
Magar...
Koi Saath Deta Hai...
To...
Koi Chhod Deta Hai...



             " PYAR "


Sabhi Karte Hai...
Magar...
Koi Dil Se Karta Hai...
To...
Koi Dimag Se Karta Hai...



            " DOSTI "


Sabhi Karte Hai....
Magar...
Kuch Log Nibhate Hai...
Kuch Log Aazmate Hai...



 .          " RISHTA "


Kai Logon Se Hota Hai...
Magar...
Koi Pyar Se Nibhata Hai..
To...
Koi Nafrat Se Nibhata Hai



           " EHSAAS "


Sabko Hota Hai...
Magar...
Koi Mehsoos Karta Hai...
To...
Koi Samajh Nahi Paata...



            " ZINDAGI "


Sabhi Jeete Hai...
Magar...
Koi Sab Kuch Paane K
Baad Bhi Dukhi Rehte Hai..
To...
Koi Lutake Khush Rehte Hai

💌💌💌💌💌💌💌


🔫: आप भले ही पांचसो करोड की मिलकत के मालिक हो ....
पर शाम होते आपकी राह देखते पांच दोस्त न हो तो आप दुनिया के सबसे गरीब इन्सान हो...

🔫: लोगों ने कहा तुम उसको याद क्यों करते हो;
जो तुम्हे याद ही नहीं करता;
तड़प कर दिल बोला;
मोहब्बत करने वाले कभी मुक़ाबला नहीं करते।

🔫: कितनें अनमोल होतें हैं अपनों क़े रिश्तें भी,
क़ोई याद ना बी करें तो
इंतज़ार फ़िर भी रेहता हैं.....

🔫: ज़िन्दगी मिलती हे हिमत वालो को,
ख़ुशी मिलती हे तकदीर वालो को,
प्यार मिलता हे दिल वालो को,
और आप जेसा दोस्त मिलता हे तकदीर वालो को

🔫: चले भी आओ तसव्वुर में मेहरबां बनकर;
आज इंतज़ार तेरा, दिल को हद से ज्यादा है!

🔫: सागर के किनारो पे खजाने नहीं आते।
पल जो फीसल गये हाथ से
वो दुबारा नहीं आते।
जी भर के जीलो इन हसी पलो को जनाब।
क्योंकी....
फीर लौटके वो जमाने नहीं आते।

🔫: Ban jate hain,
riste dar jab paise pass hote hain.
toot jate hain garibi me,
jo riste khash hote hain.

🔫: 🔫:
*****(1)*****
जब हम छोटे थे,
तो सोने के लिए रोने का नाटक करते थे…
पर आज हम जब बड़े हो गए है तो,
रोने के लिए सोने का नाटक करते है…
It’s True
I MISS U FRIEND
*****(2)*****
जो इंसान आपसे ज्यादा प्यार करेगा,
वो आपसे रोज़ लड़ेगा,
लेकिन जब आपका १ आँसू गिरेगा,
तो उसे रोकने के लिए वो पूरी दुनिया से लड़ेगा…
*****(3)*****
एक खूबसूरत सोच :
”दूसरों को इतनी जल्दी माफ़ कर दिया करो“…
”जितनी जल्दी आप उपरवाले से अपने लिए माफ़ी की उम्मीद रखते हो”…
*****(4)*****
कितनी बुरी लगती है ज़िन्दगी
जब हम तनहा महसूस करते है,
मरने के बाद मिलते है चार कंधे,
और,
जीते जी हम एक के लिए तरसते है…
*****(5)*****
चिराग-इ-फिकर यक़ीनन बुझा के सोते है,
मगर नसीब कि शमा जला के सोते है,
वो रोज़ ख्वाब में जन्नत देखते होंगे,
जो अपनी माँ के पैर दबा के सोते है…
*****(6)*****
“एक बात हमेशा याद रखना .!!”
.
.
“खुश-नसीब” वोह नहीं जिसका नसीब अच्छा है बल्कि..
.
.
खुश-नसीब वोह है,
जो अपने नसीब से खुश है!
*****(7)*****
इंसान अपना चेहरा सजाता है,
जिस पर लोगो कि नज़र होती है,
मगर,
दिल को सजाने कि कोशिश नहीं करता,
जिस पर खुदा कि नज़र होती है…
*****(8)*****
कभी उसको नज़र अंदाज़ ना करो जो आपकी बहुत परवाह करता हो,
वरना किसी दिन आपको एहसास होगा कि,
पत्थर जमा करते करते आपने हीरा गवा दिया…
*****(9)*****
“लफ्ज़” ही ऐसी चीज़ है.
जिसकी वजह से इंसान,
“या तो दिल में उतर जाता है”
“या तो दिल से उतर जाता है”
*****(10)*****
जिंदगी की हक़ीक़त सिर्फ इतनी होती है,
जब जागता है इंसान तब किस्मत सोती है,
इंसान जिस पर अपना हक़ खुद से ज़्यादा समझता है,
वो अमानत अक्सर किसी और की होती है…
*****(11)*****
ख़ुशी के लिए कुछ करोगे तो,
ख़ुशी शायद ना मिले,
लेकीन खुश होके कुछ करोगे तो,
ख़ुशी ज़रूर मिलेगी…
*****(12)*****
जन्म देती है, पालती है और बोलना सिखाती है औरत।
ऐ मर्द, अफसोस तुम्हारी गाली में भी उसी का नाम होता है।

🔫: एक नींद है जो....
रात भर नहीं आती....
और एक ‪नसीब‬ है जो....
ना जाने कब से सो रहा....

🔫: " कोशिश तो होती है
कि तेरी
हर ख्वाहिश पूरी करूँ...!!
पर डर लगता है
के तु
ख्वाहिश मे मुझसे जुदाई ना माँग ले...!!

🔫: "जिंदगी "में कभी उदास मत होना,
       किसी बात पर निराश मत होना,

जिंदगी है संघर्ष चलता ही रहेगा,
        कभी हार कर अपने जीने का....
अंदाज मत बदलना...!!!

🔫: "पैसे भले में उपर नहीं ले के जाऊंगा,
 पर जब तक मै नीचे हु,
ये मुझे बहुत उपर ले के जायेगा.."

🔫: है ईरादा क्या कुछ तो कहिए,
जैसे भी रहिए मेरे ही दिल मे रहिए....

🔫: जिनकी नजरो मे हम नही  अच्छे ,
कुछ तो वो लोग भी बुरे होगे

🔫: दिल सा नाजुक भी कुछ नहीं इस दुनिया में,लफ्ज का वार भी इस पे, खंजर की तरह लगता है..!!

🔫: ख़ामोशी से भी नेक काम होते हैं,,
मैंने देखा है पेड़ों को छाँव देते हुए.

🔫: "वो जो तसल्ली देकर गए थे की "इंतेज़ार करेंगे"
आज मुलाक़ात के लिए पूछा तो बोले,"विचार करेंगे""

🔫: मुकद्दर में लिखा के लाये हैं दर-ब-दर भटकना..
मौसम कोई भी हो परिंदे परेशान ही रहते हैं.

🔫: मैंने तो बस उसको पाने की ज़िद्द की थी…
मेरा खुद को खोने का कोई इरादा नहीं था...

🔫: दिल की उम्मीदों का हौसला तो देखो...
इन्तजार उसका.. जिसको एहसास तक नही...!!

🔫: ,....मैने तो छोड दिया अब उसकी ख्वाहीश करना...
.....जिसको मोहब्बत की कदर न हो उसको दुवाओ मे क्या मांगना..

🔫: इस गलतफहमी में ना रह E-Jaan कि तेरे वास्ते मैं जाग रहा हूँ
नींद मेरी आँखों से नही मेरे मुक्कदर से उडी हुई है...!!!!

🔫: फ़क़त रेशम सी गाँठें थी,ज़रा सी खाेल ली जातीं,
अगर दिल में शिकायत थी,जुबां से बोल ली जातीं !!

🔫: भीड़ इतनी तो ना थी शहर के बाज़ारों में ....
मुझे खोने वाले ....तुने कुछ देर तो ढूँढा होता !!

🔫: किसी शायर से कभी उसकी उदासी का वजह
पूछना...
दर्द को इतनी ख़ुशी से सुनाएगा की प्यार
हो जायेगा..."❤

🔫: में वो काम नहीं करता जिसमे खुदा मिले।
मगर में वो काम करता हु जिसमे दुआ मिले।🙏

🔫: मेरी बातो को इतनी दिलचस्पी से मत पढ़ा करो,
कुछ याद रह गया,तो हमें भूला ना पाओगे....

🔫: "इरादा क्या है.... कुछ तो कहिऐ।
         जैसे भी रहिऐ... बस मेरे "दिल" में रहिऐ....!!!

🔫: मत सोना किसी की गौद में सर रखकर..!!
जब बो छोड़ता है,तो...
रेशम के तकिये पर भी नींद
नही आती....

🔫: सो जाते हैं फूटपाथ पे अख़बार बिछा कर,
मज़दूर कभी नींद की गोली नहीं खाते!

🔫: तु हजार बार भी रूठे तो मना लुगाँ तझे,
मगर देख, मुहब्बत में शामिल कोई दुसरा न हो....
🔫: 👆👆👆👆👆👆!!
मत पूछ कितनी मोहब्बत "है मुझे उस से . . . .
बारिश की बूँद भी
अगर उसे छु ले , तो दिल मैं आग लग जाती है ...!!

🔫: कोई नहीं आयेगा मेरी जिंदगी में अब तुम्हारे सिवा.... एक "मौत " ही है जिसका मैं वादा नहीं करता....!!

🔫: लोग पढ़ लेते हैं मेरी आँखो में "तेरे प्यार की शिद्दत" ....
मुझसे अब तेरे "इश्क़" की हिफाजत नहीं होती "...!!!

🔫: अपनी प्यारी आँखो में "छुपा"लो मुझको,
            मोहब्बत तुम से है "चुरा" लो मुझको...
धुप हो या सह़र तेरे साथ चलेंगे हम,
           यकीन ना हो तो आज़मा लो मुझको,
तेरे हर दुःख को सह लेंगे हँस के हम....
           अपने वादों की "चादर" बना लो मुझको,
जिंदगी भी तेरे "नाम" कर दी मैंने......
        बस चंद लम्हें "सीने" से लगा लो मुझको "...!!!



🔫: किस्मत अपनी लिखाकर आऐं हैं.....
        यूँ ही आपके करीब नहीं आऐं हैं...
हथेली अपनी गौर से देखो......
    आपकी हथेली की लकीरों में.....
हम दोस्त बनकर आऐं हैं....!!!!!

🔫: लोग मुझसे मेरी "उदासी " की वजह पूछते है ..?
हो अगर इजाजत....तो "तेरा नाम" बता दूँ....!!!!

🔫: "बड़ी चालाक होती है जिंदगी हमारी.....
     रोज़ नया कल देकर, उम्र छीनती रहती है   !!

🔫: मेरी आँखों के जादु से अभी तुम कहा
वाकिफ हो,
हम उसे भी जीना सिखा देते हैं जिसे मरने का शौक हो....!


🔫: मत कर नजर अंदाज माँ - बाप की तकलीफो को,
जब ये बिछड़ जाते हैँ तो रेशम के तकिये पर भी नीँद नहीँ आती....!!

🔫: आज मुझे एक गुनाह करने दो "

    मुझे तुम अपने आप मे खोने दो "..!💕
🔫: इतनी अहमियत तो दोस्तो में बना ही ली है
कि..."मेला लग जायेगा उस दिन शमशान
में,जिस दिन"मैँ"चला जाँऊगा आसमान में"!!

🔫: Meri aankho ke jaadu se, abhi tm kaha wakif ho....
hm use bhi jina sikha dete hai, jise marne ka shok hota hai...!!
🔫: अपने हसीन होठों को किसी परदे में छुपा लिया करो 💏.....
हम गुस्ताख लोग हैं नजरों से चूम 💏 लिया करते है....!!

🔫: ना कुछ चाहते हैं आपसे....
ना कुछ माँगते हैं हम....
हमारी हदें कँहा तक हैं.... ये भी पहचानते हैं हम,
हाँ शायद हक नहीं हमारा आपके दिल में जगह पाने का...
लेकिन नफरत तो नहीं सह पायेगें आपकी... इतना जानते हैं हम...।।
🔫: बहुत देखा जीवन में समझदार बन कर,
पर ख़ुशी हमेशा पागल बनने पर ही मिली है...!!!

🔫: "धड़कन दिल की रुक जाती है, सांस आकर थम जाती है, बहुत बुरी हालत होती है, यारो जब गर्लफ्रेंड से शादी करने की नौबत आती है."
🔫: सुन्दर कविता जिसके अर्थ काफी गहरे हैं........

मैंने .. हर रोज .. जमाने को .. रंग बदलते देखा है ....
उम्र के साथ .. जिंदगी को .. ढंग बदलते देखा है .. !!

वो .. जो चलते थे .. तो शेर के चलने का .. होता था गुमान..
उनको भी .. पाँव उठाने के लिए .. सहारे को तरसते देखा है !!

जिनकी .. नजरों की .. चमक देख .. सहम जाते थे लोग ..
उन्ही .. नजरों को .. बरसात .. की तरह ~~ रोते देखा है .. !!

जिनके .. हाथों के .. जरा से .. इशारे से .. टूट जाते थे ..पत्थर ..
उन्ही .. हाथों को .. पत्तों की तरह .. थर थर काँपते देखा है .. !!
जिनकी आवाज़ से कभी .. बिजली के कड़कने का .. होता था भरम ..
उनके .. होठों पर भी .. जबरन .. चुप्पी का ताला .. लगा देखा है .. !!

ये जवानी .. ये ताकत .. ये दौलत ~~ सब कुदरत की .. इनायत है ..
इनके .. रहते हुए भी .. इंसान को ~~ बेजान हुआ देखा है ... !!
अपने .. आज पर .. इतना ना .. इतराना ~~ मेरे .. यारों ..
वक्त की धारा में .. अच्छे अच्छों को ~~ मजबूर हुआ देखा है .. !!!

कर सको......तो किसी को खुश करो......दुःख देते ........तो हजारों को देखा है‎.

🔫: "गुजरी हुई जिंदगी को
                   कभी याद न कर,
तकदीर मे जो लिखा है
               उसकी फर्याद न कर...

जो होगा वो होकर रहेगा,

तु कलकी फिकर मे
           अपनी आज की हसी                          बर्बाद न कर...

 हंस मरते हुये भी गाता है
और
      मोर नाचते हुये भी रोता है....

  ये जिंदगी का फंडा है बॉस
दुखो वाली रात
              निंद नही आती
  और
       खुशी वाली रात
                     .कौन सोता है...

🔫:

जहां तक रिश्तों का सवाल है.....लोगो का आधा वक़्त...."अनजान लोगों को इम्प्रेस करने और अपनों को इग्नोर करने में चला जाता हैं...!!!!👍

🔫: “हंसी ने लबों पर थ्रिकराना छोड दिया ख्‍बाबों ने सपनों में आना छोड दिया नहीं आती अब तो हिचकीया भी शायद आपने भी याद करना छोड’ दिया ”

🔫: बहुत खूबसूरत हो तुम;
खुद को दुनिया की बुरी नज़रों से बचाया करो;
सिर्फ आँखों में काजल ही काफी नहीं;
गले में नींबू, मिर्च और चप्पल भी लटकाया करो।

🔫: पापा : बेटा तुम्हारे रिजल्ट का क्या हुआ?
पप्पू : पापा 80% आये हैं।
पापा : पर मार्कशीट पर तो 40%लिखा है?
पप्पू : बाकी आधार कार्ड लिंक होने पर अकाउंट   में  40%  सब्सिडी में आएंगे।😜😝😝😝
🔫: पास आ जरा दिल की बात सुनाऊ तुझको,
कैसे धरकता है दिल आवाज़ सुनाऊ तुझको,
आ के तू देख ले दिल पे लिखा है नाम तेरा,
अगर कहता है तो दिल चीर के दिखाऊ तुझको..
जितना जलाया है तुमने प्यार में मुझको,
दिल तो करता है की मै भी जलाऊ तुझको,
अजनबी होता तो ऐसा भी कर लेता शायद ,
मगर तू तो अपना है कैसे सताऊ तुझको…..!!


🔫: "यादों के सहारे दुनिया नही चलती,
बिना किसी शायर के महफ़िल नही बनती,
एक बार पुकारो तो आए दोस्तों,
क्यों की दोस्तों के बिना ये धड़कने नही चलती.."

🔫: दिल कि हशरत  जुबा पर आने लगि ,,,,तुमको देखा और जिन्दगी मस्कुराने लग़ी ,,,,ये दोस्ती  कि इन्तेहा  थी ।या मेरी दीवानगी ,,,,हर सूरत मे  सूरत तेरी  नजर आने लगी

🔫: "तू देख या न देख, तेरे देखने का ग़म नहीं,
तेरा न देखना भी तेरे देखने से कम नहीं,
सामिल नहीं हैं जिसमे तेरी यादे
वो जिन्दगी भी किसी जहनुम से कम नहीं."

🔫: जो इस दुनिया में नहीं मिलते, वो फिर किस दुनिया में मिलेंगें जनाब,
बस यही सोचकर खुदा ने एक दुनिया बनायी, जिसे कहते है ख्वाब...!!

🔫: मयखाने से पुछा...
आज इतना सन्नाटा क्यों है..?
बोला...
भाई लहु का दौर है...
अब शराब कौन पीता है..?

🔫: "तुम्हे जब मुझ से ज्यादा गैर प्यारें हैं,
फिर मेरी याद मे तुम तडपती क्यो हो,
तुमने ही पावंदी लगाई है मुलाकातो पर,
फिर अब राहें मेरी तुम तकती क्यों हो."


🔫: "यादें आँसु होती तो छलक जाती
यादें लिखावट होती तो मिट जाती
यादें तो जिंदगी में बसा वो एहसास हैं
जो लाख कोशिश के बाद भी लब्जो में बयां नहीं होती."

: जिनके 'आँगन' में 'अमीरी' का "दरख़्त" लगता है उन का हर 'एब' भी जमाने को 'हुनर' लगता है

🔫: ‬: दिल को हमसे चुराया आपने,
दूर होकर भी अपना बनाया आपने,
कभी भूल नहीं पायेंगे हम आपको,
क्योंकि याद रखना भी तो सिखाया आपने.
[

//////////////

: कोई अच्छी सी सज़ा दो मुझको,
चलो ऐसा करो भूला दो मुझको,
तुमसे बिछडु तो मौत आ जाये
दिल की गहराई से ऐसी दुआ दो मुझको


//////////////////

‬: दिल टूट गया है फिर भी कसक सीने में बाकी है
नशे मैं मदहोश हैं तो क्या पैमाने मैं जाम अब भी बाकी है.

////////////

: जिंदगी देने वाले,
मरता छोड़ गये,
अपनापन जताने वाले तन्हा छोड़ गये,
जब पड़ी जरूरत हमें अपने हमसफर की,
वो जो साथ चलने वाले, रास्ता मोड़ गये.
[

/////////////

:  हमें न मोहब्बत मिली, न प्यार मिला,
हमको जो भी मिला बेवफा यार मिला,
अपनी तो बन गई तमाशा जिंदगी,
हर कोई अपने मकसद का तलबगार मिला.
[
////////////////

‬: यादें होती हैं सताने के लिए,
कोई रूठता हैं फिर मनाने के लिए,
रिश्ता बनाना कोई मुस्किल तो नहीं,
बस जान चली जाती हैं उसे निभाने के लिए.



///////////////
"दोस्तों की कमी को पहचानते हैं हम,
दुनिया के गमो को भी जानते हैं हम,
आप जैसे दोस्तों का सहारा है,
तभी तो आज भी हँसकर जीना जानते हैं हम."


/////////////

: "हम अपने पर गुरुर नहीं करते,
याद करने के लिए किसी को मजबूर नहीं करते.
मगर जब एक बार किसी को दोस्त बना ले,
तो उससे अपने दिल से दूर नहीं करते."


//////////////

 एक ट्रक के पीछे एक
बड़ी अच्छी बात लिखी देखी....

"ज़िन्दगी एक सफ़र है,आराम से चलते रहो
उतार-चढ़ाव तो आते रहेंगें, बस गियर बदलते रहो"
"सफर का मजा लेना हो तो साथ में सामान कम रखिए
और
जिंदगी का मजा लेना हैं तो दिल में अरमान कम रखिए !!

तज़ुर्बा है मेरा.... मिट्टी की पकड़ मजबुत होती है,
संगमरमर पर तो हमने .....पाँव फिसलते देखे हैं...!


‬: किसी ने घड़े से पूछा,
कि तुम इतने ठंडे क्यों हो ?

अति अर्थ पूर्ण उत्तर था घड़े का:
जिसका  अतीत  भी  मिट्टी,  और भविष्य भी मिट्टी,
उसे गर्मी किस बात पर होगी. .!!

ये बात इंसान भी याद रखे तो कितना अच्छा हो....   .....
...
[
////////////

‬: हमारे देश में बदलाव क्यूँ नहीं आता....
क्यूँ की गरीब में "हिम्मत" नहीं..
मिडिल क्लास को "फ़ुर्सत" नहीं..
और अमीर को "जरूरत"नहीं""
[
/////////

‬: घरती पे ईश्वर की तलाश है,मालिक तेरा
बन्दा कितना निराश है,क्यों खोजता
है..इन्सान ईश्वर को ?जबकी तेरे दुसरे रुप
में "माँ-बाप"उसके इतने पास है ।।...
[
///////////////

जुगनू ही दीवाने निकले,
अँधियारा झुठलाने निकले..
ऊँचे लोग सयाने निकले,
महलो में तहखाने निकले,
आहों का अंदाज़ नया था,
लेकिन जख्म पुराने निकले..
वो तो था सबकी जद में,
किसके ठीक निशाने निकले..
जिनको पकड़ा हाथ समझ कर,
वो केवल दस्ताने निकले...heet
[


////////////

 चलो कुछ पुराने दोस्तों के
दरवाज़े खटखटाते हैं
देखते हैं उनके पँख थक चुके हैं.…
या अभी भी फड़फड़ाते हैं.....

वो बेतकल्लुफ़ होकर
किचन में कॉफ़ी मग लिए बतियाते हैं.....
या ड्राइंग रूम में बैठा कर
टेबल पर नाश्ता सजाते हैं.....

हँसते हैं खिलखिलाकर,
या होंठ बंद कर मुस्कुराते हैं.....
वो बता देतें हैं सारी आपबीती,
या सिर्फ सक्सेस स्टोरी सुनाते हैं......

हमारा चेहरा देख
वो अपनेपन से मुस्कुराते हैं,
या घड़ी की ओर देखकर
हमें जाने का वक़्त बताते हैं....

चलो कुछ पुराने दोस्तों के
दरवाज़े खटखटाते हैं,
देखते हैं उनके पँख थक चुके हैं.…
या अभी भी फड़फड़ाते हैं......😎


/////////

 शब्दों से ही लोगों के दिलों पे राज़
किया जाता हैं...
चेहरे का क्या किसी भी हादसे मे बदल
सकता हैं..
[

////////////////

‬: जरूरी नहीं की हर समय होठो पे भगवान का नाम
आये...
वो लम्हां भी भक्ति का होता है..
जब इंसान इंसान के काम आये...


//////////

‬: पलको की ज़िद
पलको की ज़िद है आँसू गिरने की
दिल की ज़िद है रिश्ता निभाने की
आपको ज़िद है अगर हूमे भूलने की
तो हमे भी ज़िद है आपको अपनी याद दिलाने की



💘बोलती है दोस्ती चूप रहता है प्यार ,हंसाती है दोस्ती रूलाता है प्यार ,मिलाती है दोस्ती जुदा करता है, फिर भी क्यो दोस्ती छोङ कर लोग करते है प्यार💘

एक और प्यारी सी सुबह हो गई;
ज़िंदगी की खुशनुमा फ़िज़ा हो गई;
मुबारक हो आपको आज का दिन;
जिसमें शामिल आपकी दुआ हो गई।


 🔫: जिस पल आपकी मृत्यु हो जाती है, उसी पल से आपकी पहचान एक "बॉडी" बन जाती है।
अरे
"बॉडी" लेकर आइये,
"बॉडी" को उठाइये,
"बॉडी" को सूलाइये
ऐसे शब्दो से आपको पूकारा जाता है, वे लोग भी आपको आपके नाम से नही पुकारते ,
जिन्हे प्रभावित करने के लिये आपने अपनी पूरी जिंदगी खर्च कर दी।

इसीलिए निर्मिती" को नही
निर्माता" को  प्रभावित करने के लिये जीवन जियो।

जीवन मे आने वाले हर चूनौती को स्वीकार  करे।......
अपनी पसंद की चिजो के लिये खर्चा किजिये।......
इतना हंसिये के पेट दर्द हो जाये।....

आप कितना भी बूरा नाचते हो ,
फिर भी नाचिये।......
उस खूशी को महसूस किजिये।......
फोटोज् के लिये पागलों वाली पोज् दिजिये।......
बिलकुल छोटे बच्चे बन जायिये।

क्योंकि मृत्यु जिंदगी का सबसे बड़ा लॉस नहीं है।
लॉस तो वो है
के आप जिंदा होकर भी आपके अंदर जिंदगी जीने की आस खत्म हो चूकी है।.....

हर पल को खूशी से जीने को ही जिंदगी कहते है।
"जिंदगी है छोटी," हर पल में खुश हूं,
"काम में खुश हूं," आराम में खुश हू,

"आज पनीर नहीं," दाल में ही खुश हूं,
"आज गाड़ी नहीं," पैदल ही खुश हूं,

"दोस्तों का साथ नहीं," अकेला ही खुश हूं,
"आज कोई नाराज है," उसके इस अंदाज से ही खुश हूं,

"जिस को देख नहीं सकता," उसकी आवाज से ही खुश हूं,
"जिसको पा नहीं सकता," उसको सोच कर ही खुश हूं,

"बीता हुआ कल जा चुका है," उसकी मीठी याद में ही खुश हूं,
"आने वाले कल का पता नहीं," इंतजार में ही खुश हूं,

"हंसता हुआ बीत रहा है पल," आज में ही खुश हूं,
"जिंदगी है छोटी," हर पल में खुश हूं,

अगर दिल को छुआ, तो जवाब देना,
वरना बिना जवाब के भी खुश हूं..!!
😀😀Be Happy Always 😄😄


🔫: जिनके 'आँगन' में 'अमीरी' का "दरख़्त" लगता है
उन का हर 'एब' भी जमाने को 'हुनर' लगता है



🔫: Nice lines

स्वर्ग में सब कुछ है लेकिन मौत नहीं है,
गीता में सब कुछ है लेकिन झूठ नहीं है,
दुनिया में सब कुछ है लेकिन किसी को सुकून नहीं है,
और
आज के इंसान में सब कुछ है लेकिन सब्र नहीं  ‬ Kisi ne kya khoob kaha hai :

ना खुशी खरीद पाता हू ना ही गम बेच पाता हू फिर भी मै ना जाने क्यु हर रोज कमाने जाता हू.... 🚶


🔫: अभी सूरज नहीं डूबा जरा सी शाम होने दो……….,
मैं खुद लौट जाऊंगा मुझे नाकाम तो होने दो…….,
मुझे बदनाम करने का बहाना ढूंढ़ता है जमाना ….!
मैं खुद हो जाऊंगा बदनाम पहले मेरा नाम तो होने
दो


🔫: Pyar me dhokha khaye hue Insaan ne khuda se kaha YA khuda tu ishq na karna, Varna khub pachtayga Hum to mar k TERE pas aayenge, Tu kiske pass jayega


🔫: Hum to tere dil ki mahfil sajane aaye the Teri kasam tujhe apna banane aaye the Kis baat ki saza di tu ne ham ko, Bewafa hum to tere dard ko apnane aaye the.



🔫: Meri barbadi par tu koi malal na karna, Bhul jana, mera khayal na karna, Hum teri khusi ke liye kafan Odh lenge, Par tu meri laash se koi sawal na karna......


 🔫: Hasane Ke Baad Kyon Rulati Hai Duniya; Jaane Ke Baad Kyon Bhulati Hai Duniya; Zindagi Mein Kya Koi Kasar Baaki Thi; Jo Mar Jaane Ke Baad Bhi Jalati Hai Duniya


🔫: Tamam umar zindagi se door rahe, Teri khushi ke liye tujse door rahe, Ab iss se badkar wafa ki saza kya hogi, Ki tere hokar bhi tujse door rahe.


🔫: Mujhe In Patharo Ka Dar Na Hota; Agar Sheeshe Ka Mera Ghar Na Hota; Yakeenan Hum Bhi Khelte Ishq Ki Bazi; Agar Dil Tootne Ka Dar Na Hota!

🔫:  via Dhoka Shayari - Har Phool Kee Ajab Kahani Hai; Chup Rehna Bhi Pyaar Kee Nishani Hai; Kahin Koi Zakhm Nahi Phir Bhi Kyon Dard Ka Ehsas Hai; Lagta Hai Dil Ka Ek Tukda Aaj Bhi Uske Paas Hai!

🔫: Talaash karo koi tumhe mil jayega, Magar hamari tarha tumhe kaun chahega, Zarur koi chahat ki nazar se tumhe dekhega, Magar aankhein hamari kahan se layega.


🔫: Tamannao me Uljhaya Gaya hoon, khilone de ke behlaya gaya hoon, Kafan me kyun na Jaun muh chhupa ke, Bhari mehfil me Uthaya Gaya hoon


🔫: Kaash hamari bhi parwah kisi ne ki hoti, Toh ye duniya humse ruswa na ki hoti, Agar aata aap jaisa muskurana hum ko, Toh humse bhi kisi ne muhabbat ki hoti.


 🔫: Nibhaoge Tum Kasmein Yeh Wada Na Karo; Mohabbat Humse Itni Zyada Na Karo; Dekhe Hain Maine Bhi Daur Tabahi Ke; Aur Humein Sataane Ka Irada Na Karo!

 🔫: Naam likh ke uss ne mera mitaya hoga, So bar usko meri yaadon ne rulaya hoga, Uss ke chehre pe mera naam likha hai yaro, Uss ne kis kis se mera naam chhupaya hoga..


🔫: 💥👌बहुत सुंदर बात👌💥

रेस में जीतने वाले घोड़े
को तो पता भी नही होता कि जीत
वास्तव में क्या है, वो तो अपने
मालिक द्वारा दी गई तकलिफ
कि वजह से ही दौड़ता है, इसलिए
यदि आपके जीवन मे कभी कोई
तकलीफ आए तो समझ
लेना कि आपका मालिक
आपको जीताना चाहता है 👌👌👌👌👌

NICE LINE --+-क्या लिखू जिंदगी के बारे में.....वो लोग ही धोखा दे गये .......जो जिंदगी हुअा करते थे

🔫: सीधा साधा दिखता हु मेरा रोल बदल जायेगा ।जिस दिन मैं जिद पर आ गया माहोल बदल जायेगा !!🙏

🔫: जो लोग दर्द को समझते हैं...
वो लोग कभी भी दर्द की
वज़ह नही बनते...!!


🔫: जो लोग दर्द को समझते हैं...
वो लोग कभी भी दर्द की
वज़ह नही बनते...!!


🔫: दोस्तों के लिये हम भरे मंडप स
े#लडकी तो क्या, .उसके # बाप को भी
उठा लेते...
इसलिये # दुश्मन भी कहतेँ हैँ "काश हम
भी
इसके # फ्रेंड लिस्ट मे होते😎

🔫: "तुम करोगे याद एक दिन इस प्यार के ज़माने को,
चले जाएँगे जब हम कभी ना वापस आने को.
करेगा महफ़िल मे जब ज़िक्र हमारा कोई,
तो तुम भी तन्हाई ढूंढोगे आँसू बहाने को…"

🔫:
Dil Se Likhi Baat,
Dil Ko Chhu Jati Hai,

Yeh Aksar Ankahi Baat,
Kah Jaati Hai,

Kuchh Log Dosti Ke,
Maayne Badal Dete Hain,

Aur Kuchh Logon Ki Dosti,
Yeh Duniya Badal Jaati Hai…




🔫:
Dost Bahut Hain Lekein,
Har Dost Dil Ke Kareeb Hote Nahi,

Jo Sachha Dost Hai,
Woh Kabhi Gham Deta Nahi,

Dil Kehta Hai Ek Din,
Khushi Tere Kadam Chumegi,
Bharosa Rakhna Kismat Par,
Kyun Ki Kismat Bewafa Hote Nahi…



🔫:
Woh Eik Dost,
Jo Pyara Sa,
Lagta Hai,
Bahut Pass Hai,
Dil Ke Phir Bhi,
Juda Sa Lagta Hai,
Bahut Dino Se Aaya,
Nahi Koi Paigam Uska,
Shayad Kisi Baat Pe,
Khafa Sa Lagta Hai…



🔫:
Teri Dosti Ne Mujhe,
Dard Sahna Sikha Diya,

Marti Huyi Rooh Ko Jeena Sikha Diya,
Kya Kahun Kya Hai Tera Saath Mere Liye,
Tere Saath Ne,
Mere Aansuo Ko Muskurana Sikha Diy

🔫: तुम ये मत समझना,की कुछ नही है मेरे पास तुझे देने के लिऐ°°शायर हूँ,नाम तेरे कुछ तो लिख ही जाऊँगा...!!

🔫: बचपन से ही शौक था ,
अच्छा इन्सान बनने का.....।।
बचपन खतम ,
शौक खतम......।।
😝😝😝😝😂😂😂

🔫: "कुछ लम्हे खास हो जाते हैं,
जब अपने साथ निभाते हैं,
वो क्या कर जाते है उन्हें पता नहीं होता,
वो यादो में कब बस जाते है ये हमें पतानहीं होता|"

🔫: अंत में लिखी है दोनों की बर्बादी.....
आशिक हो या आतंकवादी ......

🔫: दैख छौरी
लगता है मैरी हथैली मै "Love Line" है ही नही
साला बचपन मै चूरन चाटते चाटते उसको भी साफ कर गये
थे।

🔫: खुशबू मेरी बातों से क्यूँ ना आए यारों...
हमने बरसों से एक ही फूल से मोहब्बत
की है........

🔫: बहुत खो चूका हूँ अब खोने की ताकत नहीं है मुझमे
या रब
ये जो कुछ लोग मेरे है उन्हें मेरा ही रहने दे....


🔫: मुझसे अब तू ना किया कर वफ़ा की बाते..
मुझे मालूम है तेरी मोहबत की डिग्री फरज़ी है

🔫: बेहतर से बेहतर की तलाश करो , मिल जाये नदी तो समंदर कि तलाश करो , टूट जाता है शीशा पत्थर कि चोट से , टूट जाये पत्थर ऐसा शीशा तलाश करो..


🔫: खामोशियों ने महफिल सजाई है... उदासियों से कह दो मुस्कुराते
हुए गुजरे !


🔫: हम तो बरबाद हो गये इन दोनों की लड़ाई में -इशक हार नहीं मानता ओर दिल बात नहीं मानता!!!


🔫: तेरी यादों का तकिया जब भी लगाता हूँ
सिरहाने....
उदासियाँ आ जातीं हैं, तन्हाइयों की चद्दर
उड़ाने.....!!................

🔫: जो कहते है सोच लेना था मोह्ब्बत करने से पहले,
उन्हे कौन समझाए कि सोच कर साजिश
की जाती है...मोह्ब्बत नही...!!


🔫: बहाना क्यु बनाते हो नाराज होने का कह क्यु नही देते के अब
दिल मे जगह नही तुम्हारे लिए..

🔫: हौसला उसमें भी ना था यूँ मुझसे जुदा होने का ..
.. वरना काजल उसकी आँखों में यूँ फैला ना होता


🔫: धडकनों को कुछ तो काबू में कर ए दिल..
अभी तो पलकें झुकाई है,
मुस्कुराना अभी बाकी है उनका..........

🔫: चुपचाप गुज़ार देगें तेरे बिना भी ये ज़िन्दगी..
लोगो को सीखा देगें मोहब्बत ऐसे भी होती है..


🔫: डरपोक होते हे जो लोग प्यार नही करते.... साला जिगर चाहिये बरबाद होने मे।।।।।


🔫: बहुत भीड़ थी उनके दिल मे .... गर
खुद नहीं निकलते तो निकल दिये
जात

🔫: फ़रिश्ते ही होंगे जिनका हुआ इश्क मुकम्मल,
इंसानों को तो हमने सिर्फ बर्बाद होते देखा है…


🔫: सदा उनके कर्जदार रहिये जो आपके लिए खुद का वक़्त
नहीं देखते।
और सदा उनसे वफादार रहिये जो व्यस्त होने के बावजूद
भी आपके लिए वक़्त निकलता है।

🔫: बेवजह..,,,जब हम तुम से लड़ते थे ना,
पागल...
बस वहीं से हुई थी, शुरुआत महोब्बत की....!!.......


🔫: क्या लिखू जिंदगी के बारे में.....वो लोग ही बिछड़
गए.......जो जिंदगी हुअा करते थे !!


🔫: इश्क महसूस करना भी ...बंदगी से कम नहीं,
ज़रा बताइये.... छू कर भगवान को किसने देखा है.....

🔫: अंजाम की परवाह होती तो.
हम "मोहब्बत" करना छोड देते.
"मोहब्बत" में तो जिद्द होती है
और जिद्द के हम "बादशाह" है..! —

🔫: उनका ईश्क चाँद जैसा था !
पुरा हुआ……. तो घटने लगा…!!


🔫: हम लगा बैठे थे दिल पत्थर से, टूट गया ये
खु़दा की रजा़ है... अंगुलियाँ डूबी हैं अपने ही खून मे, ये
काँच के टुकड़े उठाने की सजा है।

🔫: तालीम नहीं दी जाती, परिंदों को उड़ानों की। वो तो खुद ही समझ जाते हैं, उच्चाई आसमानों की।.


🔫: मैं बड़ो की इज़्जत इसलिए करता है , क्यूंकि उनकी अच्छाइया मुझसे ज़्यादा है. और छोटो से प्यार इसलिए करता हूँ, क्यूंकि उनके गुनाह मुझसे कम है.


🔫: बंता सांता से बोला : आपको एयर होस्टेस ने
थप्पड़ क्यों मारा?
संता : मैंने पूछा कि सूसू करने की जगह कहाँ है?
तो वो बोली पीछे
मैंने कहा पहले तो आगे हुआ करती थी..।


🔫: Aye khuda jab wo sakhs tune meri kismat
likha
hi nahi tha.....
To tu usko meri zindagi mein laya hi q
tha.....
Kya yahi hai teri khudai banakr mujhe mitna
hi
tha.....
Do dinon ka pyar hi q diya tha tune
mujhe......
Jab mujhe tujhe gum se satana hi tha.

🔫: भोलेनाथ के भक्त है, इस लिये भोले बनकर फिरते है
पर याद रखना
कभी कभी तांडव करना भी
जानते है...


🔫: "ये प्यारी निगाहॆं याद रहॆंगी,
मिलकर ना मिलने की अदा याद रहॆंगी,
मुमकिन नहीं की मॆं तुम्हॆ भुला दुं,
और उमर भर तुम्हॆ भी मेरी याद रहॆगी."


🔫: "तुझे भुलकर भी ना भूल पायॆंगॆ हम,
बस यही ​​एक वादा निभा पाऎंगॆ हम.
मीटा देंगे खुद को भी जहाँ से लॆकिन,
तेरा नाम दिल से न मीटा पाऎंगॆ हम .. "


🔫: मूझे भी समेट लेगी एक रोज वो अंधेरी कब्र
 की दहलीज ".
आपसे गूजारिस हे कि ,
माफ कर देना मेरी उन खताओ को जिनसे आपका दिल दूखा हो "

🔫: तुम किसी और से मोहब्बत कर लो....
हमें जरा वक्त लगेगा अमीर होने मे....

🔫: इश्क के रिश्ते भी बड़े नाजुक होते है साहब...
रात को नम्बर बिजी आने पर भी टूट जाते है।


🔫: लहू बहकर सूख गया, जनाज़ा रोता रहा,
कोई दिन-रात जला, ज़माना सोता रहा!
मेरे घावों को तूने मंदिर-मज़ार कर दिया,
मुझे भूला, तस्वीरों को बाज़ार कर दिया!
विचार मेरे, अब दीवारों की शान बन गये,
कल के क़ातिल, आज मेहरबान बन गये!

🔫: इतना तो किसी ने चाहा भी न होगा..जितना मैंने सिर्फ सोचा है तुम्हें...

🔫: उँगलियाँ मेरी वफ़ा पर ना उठाना लोगो...
जिसको शक़ हो वो मेरा साथ निभाकर देखे....!!

🔫: " क्यूँ  मुश्किलों  में  साथ  देते  हैं  दोस्त
क्यूँ  गम  को  बाँट  लेते  हैं  दोस्त
न  रिश्ता  खून  का  न  रिवाज  से  बंधा  है
फिर  भी  ज़िन्दगी  भर  साथ  देते  हैं  दोस्त "
💚दिल से...
          दोस्तों के लिए...💚

🔫: बिखरा वजूद...टूटे ख्वाब...सुलगती तन्हाइयाँ,
कितने हसीन तोहफे दे जाती है...ये अधूरी मोहब्बतें !


🔫: Mene kayi baar socha ke tumse keh du,
ki ek shaam udhar de do..

🔫: "तेरी बेरुखी को भी रुतबा दिया हमने,
तेरे प्यार का हर क़र्ज़ अदा किया हमने,
मत सोच के हम भूल गए है तुझे,
आज भी खुदा से पहले याद किया है तुझे.
"
💐

🔫: बनाने वाले ने दिल काँच का बनाया होता,तोड़ने वाले के हाथ मे जखम तो आया होता,जब बी देखता वो अपने हाथों को,उे हमारा ख़याल तो आया होता.


🔫: मुझ पर ख़ामोशी का इल्ज़ाम लगाने
वाले..!
किसी शाम मेरी उदासियाँ तो सुनी
होती...!!
🌾🌀🌾🌀💲🌾🌀🌾🌀

🔫: कोई दोस्त ऐसा बनाया जाये,जिसके आसुओं को पलकों में छुपाया जाए,रहे उसका मेरा रिश्ता कुछ ऐसा,की अगर वो रहे रुठा तो हमसे भी न मुस्कुराया जाये💐


🔫: वक़्त बहुत कुछ छीन लेता है,
खैर मेरी तो सिर्फ़ मुस्कुराहट थी !

🔫: 🌹जिन्दगी में दो चीजें कभी मत कीजिए.. झूठे आदमी के साथ प्रेम और सच्चे आदमी के साथ गेम..!🌹

(Nice status)यकीन था हमें भूल जाओगे तुम.खुशी है कि उम्मीद पर पूरे उतरे

🔫: आकाश मे डूबा एक प्यारा तारा हे,
हमको तो किसी की बेवफ़ाई ने मारा हे,
हम उनसे अब भी मोहब्बत करते हे,
जिसने हमे मौत से भी पहेले मारा हे.

🔫: सादगी किसी श्रृंगार से कम नहीं होती ,
चिंगारी किसी अंगार से कम नहीं होती!
ये तो अपनी अपनी सोच का फर्क है बरना ,
दोस्ती किसी प्यार से कम नहीं होती !!

🔫: बेचैन इस क़दर था,
सोया न रात भर..
पलकों से लिख
रहा था, तेरा नाम चाँद पर!!🌙❤

🔫: भूल जायेगा मुझे एक दिन टूट कर चाहने वाला
मुझे तो खबर ही नहीं थी ,उनको ये हुनर भी आता है ।

🔫: तुम मुझे "तुम" कह कर ही बुलाया  करो..
ये "आप" बङा "केजरीवाल" सा लगता है..!!


🔫: आज कल के माँ बाप सुबह स्कूल बस में बच्चे को बिठा के
 ऐसे
 बाय बाय करते हैं जैसे पढ़ने नहीं विदेश यात्रा भेज रहें हो....
और
 एक हम थे जो रोज़ लात खा के स्कूल जाते थे..😂😂😝


🔫: जिस नगर भी जाओ..किस्से हैं कमबख्त बीवी के.....कोई ला के रो रहा है..तो कोई लाने के लिए रो रहा है....


🔫: अपनी हालत का खुद एहसास नहीं है मुझको, मैंने औरो से सुना है की परेशान हु मैं..

🔫: राह-ए-इश्क में सफ़र नहीं होता आसान यारों ,
इजहार-ए-इश्क में कई साल गुजर जाते हैं ।

🔫: टैलेंट की क्या बात करते हों
जनाब,...
हमारे भारत में
लडकेे मोबाइल की बैटरी को मुँह से
चाट
कर बता देतें हैं।
बैटरी कितनी चार्ज हैं।

🔫: थक सा गया है मेरी चाहतों का वजूद अब,
..कोई अच्छा भी लगे तो हम इज़हार नहीं
करते....
🔫: 🔕🔕🔕🔕🔕🔕🔕🔕🔕
: हायकोर्ट ने आज ये स्पष्ट किया है क़ि
अगर पति परमेश्वर है ...!!
तो _
बॉय फ्रैंड भी
छोटा मोटा भैरो बाबा माना जायेगा ।।।।😝😝😝😝😝😝 😝

🔫: कोइ ऐसा कानून बना दो,,,साहब.....
कि जो बेवफा हो जाए,उसे कोई ना अपनाए

🔫: Q Uski Bewafai Batao uSe Dil Ko dukaye.. "Ae DosT" Jisne Ye Bhi Na Socha Ki Uss Shakhs Pe Kya Betegi..😞😞



🔫: मै फिर से निकलूँगा तलाशने को मेरी
जिन्दगी में खुशियाँ यारों……
दुआ करना इस बार किसी से मोह्हबत ना हो ..


🔫: जिन्दगी में ऐसे
" इन्सान" पर कभी
भी जुल्म मत करना
जिसके पास फरियाद
के लिए "भगवान" के
अलावा कोई ना हो.

🔫: "कुछ इसलिये भी हम तुमसे मोहब्बत करते थे कि,
हमारा तो कोई नही--तुम्हारा तो कोई हो !!"

🔫: मिल्कियत मेरी भी बन जाती . . . . . औरों की तरह,
युँ लूटकर अपनों को, हमें कमाना नही आता ....

💲

🔫: जिंदगी को इतना सिरियस लेने की जरूरत नही यारों.......
यहाँ से जिन्दा बचकर कोई नही जायेगा ...!
😄😄
🔫: जरा बेटी कह के पुकारो ऊसे,
बहु भी मुस्कुराना चाहती है।।😊🙏

🔫: इश्क़ में नस काट लेना भी आसान था..
 पर दोस्त इतने हारामी थे,,
दारु पिला के उसी के बारात में नचवा दिये....😳😳😜😜😂😂😂

🔫: कुछ यूँ हो रहा है रिश्तों का विस्तार
जितना
जिससे मतलब-उतना उससे प्यार...

🔫: दिल ने आज फिर तेरे दीदार की ख्वाहिश
रखी है... अगर फुरसत मिले तो ख्वाबों मे आ
जाना -

🔫: इतनी करुगा मुहब्बत के तू खुद कहेगी ।
देखो वो मेरा आशिक़ जा रहा है ॥

🔫: अमल से भी माँगा वफा से भी माँगा, तुझे मैने तेरी रजा से भी माँगा, ना कुछ हो सका तो दुआ से भी माँगा, कसम है खुदा की खुदा से भी माँगा, ...
 .

🔫: हालात के साथ वों बदलते हे जो कमज़ोर
होते हें,
हम तो हालात को ही बदल के रख देते हैं …

🔫: रोज रोते हुए मुझसे कहती है जिंदगी,
किसी शख्स की खातिर मुझे बर्बाद न कर।

🔫: माना के किस्मत पे मेरा कोई ज़ोर नही….
पर ये सच ह के मोहब्बत मेरी कमज़ोर नही,

🔫: मुझे सहल हो गई मंजिलें वो हवा के रुख भी बदल गये
तिरा हाथ, हाथ में आ गया कि चिराग राह में जल गये


🔫: तू अगर चला गया छोड़कर मुझे अकेला...तो ले जाना उन पलों को भी
जो तेरे बिना मेरी जान ले लेगें।।

🔫: जल जाते हैं मेरे अंदाज़ से मेरे दुश्मन क्यूंकि
एक मुद्दत से मैंने
न मोहब्बत बदली और न दोस्त बदले .!

🔫: लोग कहते हे शराब पीने से कलेजा जलता हे… और हम कहते हे शराब तभी पी जाती हे जब कलेजा जलता हे।।

🔫: मुमकिन हो तो मेरे दिल मे रह लो , इससे हसीन मेरे पास कोई घर नही


🔫: किसी को अपना बनाने की हसरत थी.....
.पर ये भूल गए कि हसरतें कभी पूरी नहीं होती....

🔫: सिगरेट के पैकेट में कितने भी बड़े अक्षर में
"खतरा" लिख लो
लोग पिएंगे ही
क्योंकि
#भारत में सब खुद को
"खतरों का खिलाड़ी" समझते हैं
😹😹😹

कुछ लब्ज

 चंद कुछ लब्ज़....
--------------------------------------

बहुत देखा जीवन में 

समझदार बन कर


पर ख़ुशी हमेशा
पागलपन से ही मिली है ।।

-------------------------------------

इसे इत्तेफाक समझो

या दर्द भरी हकीकत,

आँख जब भी नम हुई,

वजह कोई अपना ही था

-------------------------------------

"हमने अपने नसीब से ज्यादा

अपने दोस्तो पर भरोसा रखा है."

क्यूँ की नसीब तो बहुत बार

बदला है".

लेकिन मेरे दोस्त अभी भी वही है".

-------------------------------------

उम्रकैद की तरह होते हैं कुछ रिश्ते,
जहाँ जमानत देकर भी रिहाई मुमकिन नहीं...

-------------------------------------

"दिन बीत जाते हैं सुहानी यादें बनकर,

बातें रह जाती हैं कहानी बनकर,

पर दोस्त तो हमेशा दिल के करीब रहेंगे,

कभी मुस्कान तो कभी आखों का पानी बन कर.

------------------------------------------------

वक़्त बहुत कुछ, छीन लेता है ...

खैर मेरी तो सिर्फ़ मुस्कुराहट थी ....!!

-------------------------------------------------

क्या खूब लिखा है :

"कमा के इतनी दौलत भी मैं
अपनी "माँ" को दे ना पाया,.:::::

के जितने सिक्कों से "माँ"
मेरी नज़र उतारा करती थी..."

---------------------------------------------------

गलती कबूल करने और

गुनाह छोड़ने में कभी देर ना करें......!

             क्योकिं

सफर जितना लम्बा होगा

वापसी उतनी मुश्किल हो जायेगी...!!

-------------------------------------------------

इंसान बिकता है ...

कितना महँगा या सस्ता ये

उसकी मजबूरी तय करती है...!

-------------------------------------------------

"शब्द दिल ❤ से निकलते है


दिमाग से तो मतलब निकलते है."..

------------------------------------------------

सब कुछ हासिल नहीं होता
ज़िन्दगी में यहाँ....

.

किसी का "काश" तो
किसी का "अगर" छूट ही जाता है...!!!!

----------------------------------------------------

दो अक्षर की "मौत" और
तीन अक्षर के "जीवन" में ....

ढाई अक्षर का "दोस्त"
बाज़ी मार जाता हैं..

        🙏🙏

nice line.

दोस्ती में दोस्त, दोस्त का ख़ुदा होता है;
महसूस तब होता है जब दोस्त, दोस्त से जुदा होता है।


///////////////

: बिना पुकारे हमें साथ पाओगे
करो वादा कि दोस्ती आप निभाओगे
हम ये नही कहते कि हमें रोज याद करना
बस याद करना उस वक्त जब अकेले अकेले चॉकलेट खाओगे



/////////////////
: दोस्त को दोस्त का इशारा याद रहेता हे
हर दोस्त को अपना दोस्ताना याद रहेता
हे कुछ पल सच्चे दोस्त के साथ तो
गुजारो वो अफ़साना मौत तक याद रहेता हे.


///////////////
"फ़ोन के रिश्ते भी अजीब होते हैं, बैलेंस रखकर भी लोग गरीब होते हैं, खुद तो मैसेज करते नहीं, मुफ्त के मैसेज पढ़ने के शौक़ीन होते हैं"


////////////
 "अपनी 'ज़िंदगी' मे हर किसी को
'अहमियत' दीजिये..."
क्योकी
जो 'अच्छे' होंगे वो 'साथ' देंगे... और
जो 'बुरे' होंगे वो 'सबक' देंगे....!!!!


/////////////
‬: इतनी खूबसूरती कभी नही देखी,
बनाने वाला भी बना के हैरान होगा आपको,
खूबसूरती की जिंदा मिशल हो तुम,
खुदा भी देखकर हैरान होगा आपको…


////////////////
💞प्यार का जब सुरूर  होता  है
❤ दिल मे कुछ जरूर  होता   है
इश्क सच्चा है जिन्हे खुदासे
उनके चेहरे पे हमेशा नूर होता है

///////////

“जिंदगी तो उसकी है जिसकी मौत पे जमाना अफसोस करे, वरना जनम तो हर किसी का मरने के लिए ही होता है…।।।”

/////////////
‬: मोहब्बत मुक्कदर है कोई खवाब नहीं, ये वो अदा है जिसमें सब कामयाब नहीं, जिन्हें पनाह मिली उन्हें उंगलियों पे गिनो, जो बर्बाद हुऐ उनका हिसाब नहीं....


/////////////
: गमों की मुझ पर कुछ ऐसी नजर हो गई, जब भी हम हँसे ये आँखे नम हो गई, हम रोऐ भी तो वो जान ना सके.. और वो उदास भी हुऐ तो हमें खबर हो गई..

///////////
‬: उसको क्या सज़ा दूँ जिसने मोहब्बत में हमारा दिल तोड़ दिया;
गुनाह तो हमने किया जो उसकी बातों को मोहब्बत का रंग दे दिया।

/////////
‬: रात क्या ढली सितारे चले गए, गैरों से क्या शिकायत जब हमारे चले गए, जीत सकते थे हम भी इश्क की बाजी, पर उनको जिताने की धुन मे हम हारे चले गए..

////////////////
‬: "उल्फत की जंजीर से डर लगता हैं,
कुछ अपनी ही तकदीर से डर लगता हैं,
जो जुदा करते हैं, किसी को किसी से,
हाथ की बस उसी लकीर से डर लगता हैं."


////////////////
: दर्द होता है मगर शिकवा नहीं करते , कौन कहता है की हम वफा नहीं करते , आखिर क्‍यूं नहीं बदलती तक़दीर ‘आशिक़’ की , क्या मुझको चाहने वाले मेरे लिये दुआ नहीं करते.

/////////////
: में तो चिराग हू तेरे आशियाने का
कभी ना कभी तो बुझ जाऊंगा …आज शिकायत है तुझे मेरे उजाले से
कल अँधेरे में बहुत याद आऊंगा …

////////////
ऐ ख़ुदा,
तुने गुल को गुलशन में जगह दी,
पानी को दरिया में जगह दी,
तू उसको जन्नत में जगह देना,
जिसने मुझे अपने "दिल" में जगह दी..

////////
 वो कहते हैं दिल पे भरोसा इतना नहीं करते,
हम कहते हैं महोब्बत में सोचा नहीं करते,
वो कहते हैं नज़रों से दूर पर दिल के पास हुँ,
हमने कहा सपनो से दिल को बहलाया नहीं करते

//////////////
‬: अगर जो दिल की सुनो तो हार जाओगे..
  हम जैसा प्यार फिर कहाँ से पाओगे..
जान देने की बात को हर कोई करता है..
  जिन्दगी बनाने वाला कहाँ से लाओगे..
जो इक नज़र देखोगे हमें..
  हर तरफ हमको ही पाओगे..
यकीं अपनी चाहत का इतना है मुझे..
  मेरी आँखो में झाँकोगे और लौट आओगे..
मेरी यादों के समंदर में जो डूब गऐ तुम..
  कहीं जाना भी चाहोगे तो जा नहीं पाओगे..

/////////////
‬: अपनी खुशीयां लुटा कर उस पे कुर्बान हो जाऊँ,
काश कुछ दिन उसके शहर में महमान हो जाऊँ,
वो अपना नायाब दिल मुझ को दे दें.............और फिर वापस माँगे
मै मुक्कर जाऊँ और बेईमान हो जाऊँ

////////////////
 बैठ कर मेहबूबा कि बाहो में ऐसा जोश आया
वाह वाह!
वाह वाह!
बैठ कर मेहबूबा कि बाहो में ऐसा जोश आया
फिर…
फिर क्या हुआ?
बीबी ने देख लिया और ICU में होश आया!

///////////////
जरुरी नहीं आपकी बहू खुशखबरी के लिए नींबू खा रही हो।
जमाना बदल गया है...हो सकता है वो नशा उतारने के लिए  नींबू खा रही हो।
💔///////
वो पानी की लहरों पे क्या लिख रहा था, खुदा जाने हरफ-ऐ-दुआ लिख रहा था, महोब्बत में नफरत मिली थी उसे भी, जो हर शकस को बेवफा लिख रहा था..

ए इस्क मोहाब्बत की कुछ हे अजीब रस्मे (nice status

Ye isk mohabbat ki kuch hai ajib rasme kabhi jine ke vade kabhi marn ki kasme
🔫: सिर्फ लफ्जों को ना पढो,कभी आखेँ
भी पढ़ा करो,
कुछ सवाल बड़े खुद्दार होते है..!!


🔫: "फिर वही दिल की गुज़ारिश,फिर
वही उनका ग़ुरूर,
फिर वही उनकी शरारत , फिर वही मेरा कुसूर....!"

🔫: खुद के खोने का पता ही ना चला ,
तुझे पाने की मैंने यूँ इन्तेहा कर दी !!!!!

🔫: ऍसा नही है कि अब तुम्हारी याद
नही आती ,,बस दिल को समझा रखा है!

🔫: जब से रहने लगे हो पलकों में
एक भी ख्वाब हमारा ना हुआ....

🔫: मुझे देखने से पहले साफ़ कर;
अपनी आँखों की पुतलियाँ ग़ालिब;
कहीं ढक ना दे मेरी अच्छाइयों को भी;
नज़रों की ये गन्दगी तेरी।

🔫: है परेशानियाँ....
यूँ तो...बहुत हैं...
इस ज़िंदगी में....
तेरी मोहब्बत सा...
मगर...
कोई तंग नहीं करता....

🔫: सुलग रही है अगरबत्तियां सी मुझ में.! .तुम्हारी याद
ने महका भी दिया,जला भी दिया..!!..

🔫: पानी फेर दो इन पन्नो पर... ताकि धुल जाए
स्याही जिंदगी फिर से लिखने का मन
करता हें…कभी- कभी....!!

🔫: जब मिले थोड़ी फुर्सत दिल की बात कह देना
खामोश रिश्ते ,ज्यादा दिन तक जिन्दा नहीं रहत

🔫: तजुर्बे ने एक बात सिखाई हैँ ... एक नया दर्द
ही... पुराने दर्द की दवाई हैँ ..!!!

🔫: तुम्हें सोचूं तो सोच शायराना हो जाए...गर लिख
बैठूँ तुम्हे...तो जानेक्या हो जाए.

🔫: हल्की-
हल्की सी सर्द
हवा और
हल्का सा दर्द ए दिल.....
.अन्दाज अच्छा हेँ, ऐ नवम्बर तेरे
आने का....!!

🔫: तेरी बेरुखी ने छीन ली है शरारतें मेरी,
और लोग समझते हैं कि मैं सुधर गया हूँ..!

🔫: हम तो आइना है दाग दिखाएंगे चेहरे के...जिसे
बुरा लगे वो सामने से हट जाए....!!

🔫: तोड़ दो होंठो की ख़ामोशी ये जुकी नजरे उठाओ,
जलती है ये दुनिया तो पास आकर जलाओ.!!

🔫: फ़िदा हूँ आपकी किस किस अदा पर ,
अदाएं लाख और बेताब दिल एक ....!!

🔫: हम शराबी नहीं हे तो बन जाएंगे ।आप बस नज़रे
झुका कर उठा लीजिये।

🔫: किसको सुनाए अपना दर्द गालिब ☹ यहां सब
अपनी ही बकचोदी में लगे ह

🔫: होठों ने सब बातें छुपा कर रखीं ……
आँखों को ये हुनर… कभी आया ही नहीं ……

🔫: आधी रात है ,वहां कोई ना होगा अश्क
आऔ उनके घर के दिवार चुम आते ह

🔫: अजीब लोगोँ का बसेरा है तेरे शहर मेँ,
गूरूर मेँ मिट जाते हैँ मगर याद नहीँ करते!!

🔫: लोग खुश है आशिक को दे दे के ईबादत का फरेब
मगर खुब समझता है वो आखिर शायर है वो भी

🔫: कितना मुश्किल है मनाना उस शख्स
को जो रूठा भी ना हो और
बात भी ना करे.....!!

🔫: मुझे मजबूर करती हैं यादें तेरी वरना,
.शायरी करना अब मुझे अच्छा नहीं लगता!
[
🔫: हम तो बेज़ान चीज़ों से भी वफ़ा करते हैं,
तुझमे तो फिर भी मेरी जान बसी है...

🔫: आप सड़को की बात करते हो ...ये बेटिया तो गर्भ
में भी महफूज नही हैं………

🔫: शतरंज की चालों का खौफ ...उन्हें होता है , जो सियासत करते हैं .....!!
हम तो मोहब्बत के खिलाड़ी हैं .न हार की फिक्र , न जीत का ज़िक्र......!!!

🔫: बिछड़ के भी वो सितम ढा रहे है
तसव्वर में भी आके शर्मा रहे ह

🔫: इन दिनों हम से रिश्ता करीब रखना
सुना है अक्सर लोग दिसम्बर में बिछड़ जाते है....


🔫: मैं क्या जानूँ
दर्द की कीमत ?
मेरे अपने मुझे
मुफ्त में देते हैं !

🔫: ऐ ज़िन्दगी मुझे कुछ , मुस्कुराहटें उधार दे दे
'अपने' आ रहे हैं मिलने की रस्म निभानी ह

🔫: क्यों कहते हैं लोग कि सोहबत का असर पड़ता है
मै तो बेवफाओं की महफ़िल में रह कर भी वफाएं
निभाता रहा ......

🔫: जानता हूँ मशहूर बहुत हे मेरे अल्फाज
की तासीर !! '
मगर एक शख्स ऐसा भी हे जो मुझसे
मनाया नही जाता !!

🔫: मत पूछ दास्तान-ए-इश्क,बस जो रूलाता है,उसी के
गले लगकर रोने को जी चाहता है..!!

🔫: एक नफरत ही है , जिसे दुनिया चन्द लम्हो मे जान लेती है !!
वरना "चाहत" का यकीन दिलाने मे तो पूरी जिन्दगी बीत जाती है ........!!!
ना कर जिद्द 'दिल'अपनी हद्द् में रह !!
वो बड़े लोग हैं, याद करते हैं तो अपनी मर्ज़ी से.....
[
🔫: गिरी मिली एक बोतल शराब
की,,,तो ऐसा लगा मुझे
.जैसे बिखरा पड़ा था एक रात का
सुकून किसी का !!!

🔫: है होंठ उसके किताबो मे लिखी तहरीरो की तरह
उंगलियां रखो तो ,आगे पढने का दिल करता ह

🔫: तेरी आँखों के लिये बस इतनी सज़ा ही काफी है,
तू आज रात ख्वाबों में मुझे रोते हुए देखे !

🔫: HUME KIYA PATA THA MOSAM ASE RO
PADEGA...
HUMNE TO ASMA KO BUS APNI DASTA SUNAI
THI....

🔫: इन्कार किया जिन्होंने मेरा समय देखकर
वादा है मेरा..!!
ऐसा समय भी लाऊंगा, कि मिलना पड़ेगा मुझसे समय लेकर.

🔫: जनाजा देख कर मेरा वो बोली ..
वोही मरा है क्या जो मुझ पर मरता था?

🔫: समझ सको तो समझ लो मेरी निगाहों से,
की दिल की बातें जुबां से कही नहीं जाती...

🔫: इत्तु सा दिल है मेरा इत्तु सा
और इत्ते बड़े बड़े ग़म झेलता है..

🔫: ज़रा सी आहट से....वो जग जाता है रातों में..
.खुदा बेटी दे गरीब
को....तो दरवाज़ा भी दे.,.,!!!

🔫: खून मे ऊबाल, वो आज भी खानदानी है..!!
दुनिया हमारे शौक की नहीं , हमारे तेवर की दिवानी है,.,!!!

🔫: क्यू बार बार ताकते हो शीशे को.....
नज़र लगाओगे क्या मेरी इकलौती मुहब्बत को….

🔫: दिखावे की मोहब्बत से
बेहतर है दिल से नफरत किजिये हमसे...!!
हम सच्चे जज्बातो की बडी कदर करते है...!!!

🔫: "इश्क" का धंधा ही बंघ कर दिया साहेब।....
मुनाफे में “जेब” जले..
और घाटे में “दिल”..

🔫: हर रोज इतना मुस्कुराया करो की
ग़म भी कहे....
यार.... मै गलती से कहा आ गया...

प्यार मे कितना दर्द हे/nice status

🔫: Na khauf kar mujh' se tujhe rushwa na kruga...!!
Tu rooh-e-izzat hai meri
 Faqat pyaar hi nhi...!!!!

🔫: वो भी चुप-चाप कहीं बैठ के रोती होगी,
मैं भी रातों को ज़रा देर से घर जाता हूँ...

🔫: Dono hi bhageegar hain es jurm mein...,
Mein muskaraya tab tha,
Jab tumne najar milayi thi.......!!!!!


🔫: Pehle Rim Jhim, Phir Barsaat aur achanak kadi
dhoop,
Mohabbat aur july ki fitrat ek si hai...!!

🔫: Ab wo baithe hain rotey huye mere pas ake,
Ham ne bhi kah diya ab kah ke dikhao bewafa hame... !!!!

🔫: Ae dil chal ek sodaa kar lete hai..,
 M uske liye tadpna chod deta hu...
Aur tu mere liye dhadkna chod de.....

🔫: मेरे लहज़े की मिठास, तुझे बहुत
रुलाएगी
जब तेरी बे-रुखी पे, कोई ब-
रुखी दिखाएगा

🔫: Tumhare Siwaa Kisi Aur Ko Chahey......!!!
Nikaal Na Phainku_Aese Dil Ko..... !!!!!

🔫: Yaqeen Tha K Chorr Jaaoge Mujhe...!!
Khushi Hui K Umeed Pe Poora Utarey....!!

🔫: tu pyar kare ya na kare...
hame koi fark nhi padta.
takleef is bat hai ki hai ki teri yadee hamse bhulai
nhi jati........

🔫: तुमसे अच्छा तो हम चांद से मुहब्बत कर
लेते... लाख दूर सही पर नज़र तो आता है...

🔫: Ab wo baithe hain rotey huye mere pas ake,
Ham ne bhi kah diya ab kah ke dikhao bewafa hame... !!!!

🔫: Koi tumse puche tumare  dushman kaa pataa..
To jhat se mera naam ,apne labo se le lena...!!!
[

🔫: Teri yad jaise.....gareeb ki gareebi.....!
Din wa din badti hi jaa rhi hain....!!!

🔫: अच्छे लगे जो तुम,सो हमने बता दिया,नुकसान ये हुआ कि तुम
मगरूर हो गए..

🔫: Bhare Bazaar Se Aksar..Mein...Khali Hath Aata
Hoon....
Kabhi..Khwahish Nahin Hoti...Kabhi...Paise
Nahin Hote....

🔫: महसुस जब हुआ की सारा शहर हमसे जलने
लगा है,
तब समझ में आया की हमारा नाम
भी चलने लगा है।

🔫: Apne Har Lafz Me..Kahar...Rakhte Hain
Hum....
Rahen Khamosh..To Bhi...Asar Rakhte Hain
Hum....

 🔫: क्या खूब अन्दाज़ से रिश्ता निभाते हैं""" रोज मिले तो आदत
बिगडती है न मिले तो खुदगर्ज कहलाते हैं।

🔫: यूँ बेफ़िक्री से सोना और दावे मोहब्बत के
बस करो साहिब, हद होती है झूठ की..!

🔫: हमारे ऐतबार की हद ना पूछ ग़ालिब;
उसने दिन को रात कहा और हमने पैग बना लिया।

 🔫: Mana k Khud Chal K Aaye Hain Teri Dehleez
Pe
Aye ISHQ..!!
Sitam, Sitam aur Sitam, Ye Kahan Ki Mehman
Nawazi Hai...!!
L
🔫: ऐसा नहीं है हमको बातें
बुरी नहीं लगती,
एक बस तेरे लिए सारे गुनाह माफ हैं „♥

 🔫: बेचैन रातें बिताकर किश्तें चुका रहे हैं ,
उसने एक बार मुस्कुराकर कुछ यूँ कर्ज़दार कर दिया

🔫: Wo ye bata rahi the wafadaar kaun hai..
Mai ye sochta raha ki mera naam aayega.

🔫: मोबाइल चलाना जिसे सिखा रहा हूँ मैं,
पहला शब्द लिखना उसने मुझे सिखाया था.!!

🔫: ~फ़िक्र अपनी अब छोड़ दी हम ने~
~तुम जो इतना ख्याल रखते हो~!!!
[
 🔫: जज़्बातों के खेल में मोहब्बत के सबूत न माँग हमसे
मैंने वो आसुँ भी बहाए हैं जो मेरी आँखों में नहीं थ

🔫: इतना कुछ हो रहा है दुनिया में,
क्या तुम मेरी नही हो सकती.?

🔫: Main jab bhi toot ta hu tujhe dhundta hu....
.Tune ek bar kaha tha na hum ek hai..

🔫: bewfai ke sb iljam apne sir le kr...
mai aj use hairt m dal ayi hu...

🔫: ऍसा नही है कि अब तुम्हारी याद
नही आती ,,बस दिल को समझा रखा है!

🔫: "निगाहो को जरा झुका लीजिए जनाब..
मेरे मजहब में नशा हराम है".

🔫: Dard-E-DiL PaaoGey Wafa
Kar key...!!
Hum Ne Dekha Hai Tajurba kar key...!!

🔫: अजीज
इतना ही रक्खो की जी संभल
जाए,
अब इस कदर भी ना चाहो की दम
ही निकल जाए...

 🔫: कोई मज़बूत सी ज़ंजीर भेजो.!!!,
तुम्हारी याद पागल हो गई है.!!!

🔫: तुम बदले तो मजबुरियाँ थी बहुत..!
हम बदले तो बेवफा हो गये...

🔫: कितना मुश्क़िल सवाल पूछ लिया।।
तुमने तो हाल चाल ही पूछ लिया।।

🔫: जवाब तो था मेरे पास उसके हर
सवाल का...
पर खामोश रहकर हमने उनको "लाजवाब" कर
दिया....

 🔫: Tum Bin Nahi Hai Koi Hamara ....
Kya es Hi Bat Ka Faida Uthatay Ho Tum ...??

🔫: Thikana Qabr Hai___ Ibadat Kuch To Kar...!!
Riwayat Hai K Khaali Haath kisi k Ghar Jaya
Nahi Karte..!!
L

🔫: बे बस कर देता है मुझे कानून-ए-मोहब्बतवर्ना,
तुझे इतना चाहूं के इश्क़ की इंतेहा कर दूं .....!!!

🔫: बड़ी दिलफरेब लगती है ये प्यार और इश्क
की बातें...
अंजाम देखा है, हमने सांसे गिरवी रखने
का...!!

🔫: देखी जो नब्ज मेरी तो हंस कर
बोला हकिम...।
जा दीदार कर ले 'उसका' जो तेरे हर मर्ज
की दवा है...!!


🔫: हर रोज चिन्गारियाँ💥💥💥 उठती हैँ
'
किसी दिन आग भी लग जायेगी दिल मेँ__!!

🔫: खामोश हो जाती हूँ ,अपने जख्मों के ज़िक्र पर ,
अफसोस ....जख्मों की अपनी कोई जुबां नही होती

🔫: its awesome..
मेरी हर ख़ुशी का रास्ता तुझसे होकर गुज़रता है,
अब मत पूछना कभी कि तू मेरा क्या लगता है.!!

🔫: मयक़दे की इज़्ज़त का सवाल था
निकले, तो हम भी लड़खड़ा गए,.,.!!!

🔫: इस कदर बट गए है ज़माने में सभी..
अगर खुदा भी आकर कहे "मै भगवान हूँ"...
तो लोग पूछ लेंगे.... किसके ..?

 🔫: सिर्फ लफ्जों को ना पढो,कभी आखेँ
भी पढ़ा करो,
कुछ सवाल बड़े खुद्दार होते है..!!
 

ye dhoke pyar ke dhoke

Dil to tod hi diya

hai ab jalado
ashiyana mera
Taki hum jalkar
khak ho jaye
Na dekh sake
gairon ke sang
muskurana tera


JANAZA mera uth
raha tha,
fir be takliff thi unko
aane me,
Bewafa ghar me
baithe puch rahe
the,
Or kitni der hai
"Dafnane" me. . .



Umar Saari To
Andhere Mein
Nahi Kat Sakti.
Hum Agar Mohabbat
Mein
Dil
Na Jalaaye
To Uss Bewafa Ka
Zikar Kaise Ho ..!!


Bewafai Ki Ye Inteha
Ho Gayi
Tujhse Juda Ho Kar
Bhi Jeeney Ki Aadat
Ho Gayi
Tum Laut Ke aaoge
Hm Se Milne
Roz Dil Ko Behlane
Ki Aadat Ho Gayi



Pathar K Aage Sar
Na Jhukana
Ki Wo Devta Ho
Jaye
Kisi Se Itni Mohabat
Na Karna
Ki Wo Bewafa Ho
Jaye



::
Hm duniya ki bhid
mai T A N H A reh
gye
Hm un k hr sitam
ko hans kr seh gye
Jine chaha is
zindagi se badh kr
Hm mil nhi sakte
wo ye keh gye
Kya gila kre hm
unse bewafai ka
Hm khud hi laye the
mausam tanhai ka
Wo to melo dur the
hmse
Hm hi picha krte
rhe unki prchai ka


Dard-E-Dil Me pr
uska ehsas nhi hota
,R ota hai dil jb wo
pas nhi hota
Brbad ho gye hm
unki muhabbat mai,
Aur wo kehte hai is
tarha pyar nhi hota.

kya kya chupaye
kya kya bataye,
is Dard-E-Dil ko
kise sunae,
dard hota jism me
to dawa kar lete,
par is bari dil k
dard ki dawa kese
banaye.

2 batein unse ki,
dil ka dard kho gya,
logo ne pucha aj
tmhe kya ho gya
hai?
hm bekrar ankho se
sirf ro paye,
ye bhi na keh sake
ki,
humara pyar kisi
aur ka ho gya hai

Hasi-Hasi mai kitno
ko hasa diya,
hasi-Hasi mai kitne
gamo ko chupa liya,
haskar gaya koi
hum par is tarah,
ki humne zindgi
bhar hasna bhula
diya..

Unko azmakar dekh
liya,
ek dhoka kha kar
dekh liya,
kya hua hum hue
barbad,
Unhone to apna dil
behlakar dekh liya. .
.
Jholi faila kar
manga tha use
khuda se
Per khuda ne
merifariyad ko suna
nahi
Jab v pucha maine
iski wajah to usne
kaha
Q chahte ho use jo
tere liye bana hi
nahi


Lamha Lamha
Sanse Khatm Ho
Rahi Hai,
Jindagi Maut Ke
Pahloo Me So Rahi
Hai,
Us Bewafa Se Mat
Pucho Meri Maut Ki
Wajah,
Wo To Bus Jamane
Ko Dikhane Ke Liye
Ro Rahi Hai


Unke bewafai pe
wafa ham karenge,
Yaad ko unki dil se
juda ham karenge.
Itna chaha fir bhi
yaqin nahi use,
Aisi zindagi jee kar
kya karenge


Ab Toh Gham
Sehne Ki Aadat Si
Ho Gayi Hai,
Raat Ko Chhup -
Chhup Rone Ki
Aadat Si Ho Gayi
Hai,
Tu Bewafa
Hai.....Khel Mere Dil
Se Jee Bhar Ke,
Humein Toh Ab
Chot Khaane Ki
Aadat Si Ho Gayi
Hai..

Waqt badalta H
zindagi ke saath..
Zindagi badalti H
mohabbat ke
saath..
Mohabbat nahi
badalti apno ke
saath..
Bas apne badal jate
H waqt ke saath.

janaja mera uth
raha tha fir V takleef
tha unko aane me,
wo bewafa aaya V
to puch raha tha, or
kitni der lagega ise
dafnane me.

Apki yad na aye -
to hum bewafa,
Aap bulao or na aye
- to hum bewafa,
Hume marne ke liye
zeher ki zarurat
nahi,
1 bar nazar fer lo -
na mar jae to hum
bewafa...

hme kisi se koi
sikayt nhi.
shayad meri kismat
mai chahat nhi.
meri taqdir ko likh
kr upr wala mukr
gya.
pucha to bolaye
meri likhawat nhi.

Dekhkar dard mera,
Mehfil me sab
matam manane
lage.
Dushman bhi
hamdardi jatane
lage,
Bus wo Bewafa na
aaye jinki khateer
hum deewane bane.

Tu Bewafa Hogi
Socha Hi Nahi Tha
Tu B Kbhi Khafa
Hogi Socha Hi Nahi
Tha
Jo Geet Likhe The
Kbhi Pyar Pr Tere
Wahi Geet Rusva
Honge Socha Hi Nhi
Tha

Tumhe hai pata
bewafaa hum nahin
the
Pyar ke liye chaar
pal kam nahin the
Kabhi tum nahin the
kabhi hum nahin
the
Pyar ke haseen kab
yeh mausam nahin
the
Kabhi tum nahin the
kabhi hum nahin
the.

1 comment:

  1. Eid Mubarak Status in Hindi for Eid Ul Fitr (text and images)

    New Eid Mubarak status in Hindi for Eid ul fitr. These status consists of text and beautiful images with status. Celebrate Eid with your friends and relatives and send them the bes Eid status. Eid is a most special day. On this day everyone feel happyness. Wish you Eid Mubarak.
    click the link for Eid Mubarak status...

    ReplyDelete